Wed. Apr 10th, 2024

( प्रचंड धारा ) करंट अफ़ेयर्स 8 जनवरी 2024 हिन्दी

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने PRITHvi vigyan योजना का अनावरण किया है ।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने PRITHvi vigyan योजना का अनावरण किया है ।

2021 में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने “PRITHvi Vigyan (PRITHvi)” योजना का अनावरण किया था। यह योजना भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (MoES) द्वारा संचालित की जा रही है। इस योजना का उद्देश्य भारत में पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान, मॉडलिंग और सेवा प्रदाता को बढ़ावा देना है।

PRITHvi योजना में पांच मौजूदा उप-योजनाओं को एकीकृत किया गया है:

  • वायुमंडल और जलवायु अनुसंधान-मॉडलिंग निरीक्षण प्रणाली और सेवाएं (ACROSS)
  • महासागर सेवाएं, मॉडलिंग अनुप्रयोग, संसाधन और प्रौद्योगिकी (O-SMART)
  • ध्रुवीय विज्ञान और क्रायोस्फीयर अनुसंधान (PACER)
  • भूकंप विज्ञान और भूविज्ञान (SAGE)
  • अनुसंधान, शिक्षा, प्रशिक्षण और आउटरीच (REACHOUT)

PRITHvi योजना के तहत, भारत सरकार 2021-26 की अवधि के लिए 4,797 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस योजना का उद्देश्य भारत को पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में एक वैश्विक नेता के रूप में स्थापित करना है।

PRITHvi योजना के तहत किए जाने वाले कुछ प्रमुख कार्यों में शामिल हैं:

  • पृथ्वी प्रणाली और इसके महत्वपूर्ण संकेतों के बारे में हमारी समझ में सुधार
  • मौसम, जलवायु, महासागरों और ध्रुवीय क्षेत्रों के खतरों को समझने और उनसे निपटने के लिए मॉडल और प्रौद्योगिकियों का विकास
  • समुद्री संसाधनों की खोज और विकास के लिए प्रौद्योगिकियों का विकास
  • टिकाऊ संसाधन उपयोग को बढ़ावा देने के लिए अनुसंधान

PRITHvi योजना भारत में पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण पहल है। यह योजना भारत को जलवायु परिवर्तन, प्राकृतिक आपदाओं और अन्य पर्यावरणीय चुनौतियों से निपटने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।

5 जनवरी, 2024 को, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने नई दिल्ली में NCC गणतंत्र दिवस शिविर 2024 का उद्घाटन किया।

5 जनवरी, 2024 को, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने नई दिल्ली में NCC गणतंत्र दिवस शिविर 2024 का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर, उन्होंने NCC कैडेटों को संबोधित करते हुए कहा कि वे भारत के विकास में महत्वपूर्ण हितधारक हैं और देश के युवाओं के लिए आदर्श हैं। उन्होंने कैडेटों से गरिमा के उच्चतम मानकों को बनाए रखने और 2047 तक भारत को एक विकसित राष्ट्र और विश्व गुरु बनाने के लिए उत्साह, वीरता और समर्पण के साथ काम करने का आग्रह किया।

इस शिविर में देश भर से लगभग 10,000 NCC कैडेट भाग ले रहे हैं। शिविर का उद्देश्य कैडेटों को सैन्य प्रशिक्षण, अनुशासन, नेतृत्व और देशभक्ति की भावना प्रदान करना है। शिविर के दौरान, कैडेटों को विभिन्न प्रकार के सैन्य कौशलों में प्रशिक्षित किया जाता है, जिसमें मार्चिंग, फायरिंग, क्लाइंबिंग और सर्वाइवल शामिल हैं। वे विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक और खेल गतिविधियों में भी भाग लेते हैं।

NCC गणतंत्र दिवस शिविर एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है जो भारत के युवाओं को देशभक्ति और नेतृत्व की भावना प्रदान करता है। यह शिविर कैडेटों को अपने जीवन में सफल होने के लिए आवश्यक कौशल और ज्ञान प्रदान करता है।

 हीरो मोटोकॉर्प को हाल ही में जल प्रबंधन में उत्कृष्टता के लिए सीआईआई राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार कंपनी को उसके गुरुग्राम स्थित विनिर्माण संयंत्र में जल संरक्षण के लिए किए गए प्रयासों के लिए दिया गया है।

जल प्रबंधन के लिए Cll National Award से हीरो मोटोकॉर्प को सम्मानित किया गया है।

जल प्रबंधन के लिए Cll National Award से हीरो मोटोकॉर्प को सम्मानित किया गया है।

हीरो मोटोकॉर्प ने जल प्रबंधन के लिए एक व्यापक दृष्टिकोण अपनाया है, जिसमें चार प्रमुख स्तंभ शामिल हैं:

  • घटाना: कंपनी ने पानी के उपयोग को कम करने के लिए कई नवीन तकनीकों को अपनाया है, जिसमें आरओ फिल्ट्रेशन को अल्ट्रा फिल्ट्रेशन (यूएफ) से बदलना और निरंतर रिंसिंग के बजाय कैस्केडिंग रिंसिंग को अपनाना शामिल है।
  • पुनर्चक्रण: कंपनी मशीन आरओ रिजेक्ट पानी को कूलिंग टावरों में पुन: उपयोग करती है, जिससे अधिकतम संसाधन उपयोग सुनिश्चित होता है।
  • पुनर्प्राप्ति: घरेलू और संसाधित पानी को सावधानीपूर्वक पुनर्चक्रित किया जाता है, जिससे मीठे पानी के स्रोतों पर निर्भरता कम हो जाती है।
  • जल संरक्षण जागरूकता: कंपनी अपने कर्मचारियों और स्थानीय समुदाय को जल संरक्षण के महत्व के बारे में शिक्षित करने के लिए भी काम करती है।

इन प्रयासों के परिणामस्वरूप, हीरो मोटोकॉर्प ने अपने गुरुग्राम स्थित विनिर्माण संयंत्र में पानी की खपत को 2019 से 2023 तक 30% तक कम करने में सफलता प्राप्त की है। यह कंपनी की जल संरक्षण के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

हीरो मोटोकॉर्प के इस सम्मान को एक महत्वपूर्ण उपलब्धि माना जा रहा है। यह अन्य कंपनियों को जल संरक्षण के महत्व के बारे में जागरूक करने और जल संसाधनों के संरक्षण के लिए प्रयास करने के लिए प्रेरित कर सकता है।