Fri. Apr 19th, 2024

(प्रचंड धारा) रायपुर… केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जी रायपुर पहुँच चुके है। वे तय कार्यक्रम से तीन घंटे देर से रायपुर पहुंचे है। इससे पहले वह शाम 6:40 बजे पहुँचने वाले थे लेकिन वह दिल्ली से देर रात 9 बजे रवाना हुए थे। (Amit Shah Raipur Visit) एयरपोर्ट पर भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने उनकी अगुवानी की। गृहमंत्री शाह यहाँ से सीधे बोरियाकला स्थित प्रदेश कार्यालय जायेंगे जहां वह वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक करेंगे। वे रात्रि विश्राम प्रदेश भाजपा दफ्तर में ही करेंगे।

चुनाव और टिकट वितरण के मद्देनजर उनके इस दौरे को काफी अहम माना जा रहा है।

यहां आते ही शाह ने सबसे पहले कोर कमेटी की बैठक लेंगे। कोर कमेटी की बैठक में चुनावी रणनीतियों को लेकर चर्चा होगी साथ ही प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट और घोषणा पत्र पर भी चर्चा संभव हैं। इसके अलावा कल जारी किए जाने वाले आरोप पत्र का भी अंतिम अवलोकन अमित शाह करने वाले हैं।

बैठक में प्रदेश बीजेपी प्रदेश और चुनाव प्रभारी ओम माथुर, राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष, प्रदेश चुनाव सह प्रभारी मनसुख मांडविया, क्षेत्रीय संगठन महामंत्री अजय जामवाल, प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय, पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, बीजेपी के प्रदेश महामंत्री केदार कश्यप, ओपी चौधरी और विजय शर्मा समेत कई और नेता शामिल होंगे।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के राष्ट्रीय नेताओं का लगातार दौरा चल रहा है। बीजेपी के केन्द्रीय नेतृत्व का पूरा फोकस इस समय छत्तीसगढ़ पर है। इसी कड़ी में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज से प्रदेश में दो दिवसीय दौरे हैं। कोर कमेटी की बैठक के बाद सराईपाली में शाह की सभा भी होगी। जिसके बाद कयास लगाया जा रहा है कि बैठक के दौरान ही बीजेपी प्रत्याशियों के दूसरे लिस्ट पर चर्चा होगी और जल्द ही जारी हो जाएगी।

अगले दिन 2 सितंबर को अमित शाह सुबह 11 बजे राजधानी के पं. दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम में एक कार्यक्रम में कांग्रेस सरकार के खिलाफ आरोप पत्र जारी करेंगे। इसके बाद शाह हेलीकाप्टर से सराईपाली में आयोजित जनजातीय सम्मेलन में अभिनंदन कार्यक्रम में शामिल होंगे।

केंद्रीय नेतृत्व का पूरा फोकस इन दिनों छत्तीसगढ़ की चुनावी रणनीति पर है

जिसके चलते पार्टी के शीर्ष नेता लगातार छत्तीसगढ़ का दौरा कर रहे हैं। गृहमंत्री अमित शाह का 70 दिनों में चौथा छत्तीसगढ़ दौरा होगा। इससे पहले उन्होंने 22 जून को दुर्ग में एक बड़ी आम सभा को संबोधित किया था। इसके 12 दिन बाद 5 जुलाई और 22 जुलाई को को रायपुर आए। अब करीब 40 दिन बाद फिर शाह आ रहे हैं।