Sat. Jul 20th, 2024

प्रचंड धारा (रायपुर) … छत्तीसगढ़ में 7 जुलाई को प्रदेश भर के कर्मचारी और शिक्षक हड़ताल पर रहेंगे। सभी कर्मचारी संगठन के एक साथ एक मंच पर आने के बाद आंदोलन की रणनीति को लेकर इंद्रावती भवन में आज बड़ी बैठक हुई। बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया कि सरकार को चेतावनी देने के लिए 7 जुलाई को 1 दिवसीय हड़ताल प्रदेश भर के कर्मचारी व शिक्षक करेंगे। अगर उसके बाद भी कर्मचारियों की मांगों पर सरकार ने विचार नहीं किया तो 1 अगस्त से कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेंगे

इससे पहले 19 जून को मंत्रालय में छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन, कर्मचारीअधिकारी महासंघ, मंत्रालयीन कर्मचारी संघ एवं शिक्षक संगठनों के प्रतिनिधि एक मंच पर आये थे। आज संयुक्त मंच के तहत आगामी आंदोलन की रूप रेखा तैयार करने हेतु उक्त संगठनों से संबद्ध संगठनों के प्रांताध्यक्षों की बैठक हुई। बैठक में सभी प्रांताध्यक्षों ने संयुक्त रूप से निर्णय लिया कि 7 जुलाई को प्रदेश भर के शिक्षक आंदोलन का आगाज करते हुए एक दिवसीय हड़ताल करेंगे। उसके बाद भी अगर सरकार ने उनकी मांगों को अनसुना किया, तो 1 अगस्त से वो हड़ताल पर चले जायेंगे।

ये है कर्मचारियों की प्रमुख मांग

सातवें वेतनमान के अनरूप गृहभाड़ा भत्ता

केंद्र सरकार के कर्मचारियों की तर्ज पर ड्यू डेट से डीए

अनियमित कर्मचारियों का नियमितिकरण

ओपीएस के लिए प्रथम सेवा गणना के आधार पर कर्मचारियों को लाभ

जन घोषणा पत्र के अनुरूप चार स्तरीय वेतनमान