Tue. Apr 16th, 2024

(प्रचंड धारा) रायपुर… नवा रायपुर के होटल मेफेयर में 18 और 19 सितंबर को होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन में सुरक्षा की बहुत तगड़ी व्यवस्था रहेगी। इसे लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। पूरा नवा रायपुर क्षेत्र 16 से 20 सितंबर तक विशेष सुरक्षा घेरे में रहेगा। ड्रोन से लगातार निगरानी की जाएगी।

G20 समिट की बैठक नवा रायपुर में आयोजित की जानी है। इसके लिए छत्तीसगढ़िया थीम पर तमाम सड़कों को सजा दिया गया है। एयरपोर्ट के बाहर छत्तीसगढ़ के बस्तर आर्ट और छत्तीसगढ़ महतारी के आर्टवर्क दिखाई दे रहे हैं । बड़े-बड़े वर्ड कट आउट G20 के लगाए गए हैं। छत्तीसगढ़ के पर्यटन स्थलों की इमारतें जो देश भर में पहचानी जाती हैं उन्हें भी विशाल आकृतियों के साथ सड़कों पर सजाया गया है।

खास छत्तीसगढ़िया तोहफा

जी 20 के चौथे फ्रेमवर्क वर्किंग ग्रुप मीटिंग में 18 सितंबर और 19 सितंबर को भाग लेने दुनिया भर से आये प्रतिनिधि अपने साथ छत्तीसगढ़ की सुंदर स्मृतियों के साथ छत्तीसगढ़ी संस्कृति की चिन्हारी भी साथ लेकर जाएंगे। छत्तीसगढ़ की चिन्हारी इस गिफ्ट पैक में वनोपजों से बनाये गये खास प्रोडक्ट होंगे। संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा इस वर्ष को मिलेट ईयर घोषित किया गया है।

विदेशी डेलिगेट्स का रविवार से छत्तीसगढ़ पहुंचना शुरू हो चुका है। ये सभी 18-19 सितंबर को रायपुर में होने वाली G20 समिट में शामिल होंगे। रायपुर एयरपोर्ट पर ठेठ छत्तीसगढ़िया अंदाज में इन विदेशी मेहमानों का स्वागत किया गया। छत्तीसगढ़ी लुगरा पहनी युवतियों ने सभी को तिलक लगाकर छत्तीसगढ़िया गमछा पहनाया। एयरपोर्ट के बाहर करमा ददरिया नृत्य करते गीत गाते कलाकार नजर आए।

यहां की सभी सड़कों पर मजबूत बैरिकेडिंग कर पुलिस तैनात रहेगी। तीन दिन पहले से ही सुरक्षा का पूर्वाभ्यास शुरू हो जाएगा। एसएसपी रायपुर की मानिटरिंग में 12 एएसपी, 25 डीएसपी, 36 इंस्पेक्टर और 800 जवान इलाके में तैनात रहेंगे।

जी-20 शिखर सम्मेलन को लेकर नवा रायपुर में छत्तीसगढ़ पुलिस व समेत सभी केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों की टीम मौजूद रहेगी। होटल मेफेयर को सुरक्षा के हिसाब से पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा। कार्यक्रम स्थल के लिए 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को विशेष ट्रेनिंग भी दी जा रही है।

50 से अधिक डेलीगेट्स आएंगे

इस आयोजन में देश और विदेश के 50 विशेष प्रतिनिधियों के आने की संभावना है। इसमें अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के प्रमुख और सदस्य भी होंगे। इनसे संवाद वाली जगहों पर अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान रखने वाले लगभग 100 पुलिस अधिकारी तैनात किए जाएंगे। इनमें एसआइ से लेकर उच्च स्तर के पुलिस अधिकारी शामिल होंगे। इन प्रतिनिधियों के मन में रायपुर पुलिस की बेहतर और माडर्न छवि बनाने की पूरी कोशिश की जाएगी।

जिले की सीमाओं पर विशेष तैनाती

जी-20 शिखर सम्मेलन को लेकर महासमुंद, धमतरी सहित नवा रायपुर की ओर से प्रवेश करने वाले रास्तों पर विशेष नजर रखी जाएगी। गांवों से नवा रायपुर में प्रवेश करने वाले रास्तों पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए जाएंगे। दो दिन पहले से नवा रायपुर में प्रवेश करने वाले हर वाहनों की जांच की जाएगी। वाहनों के नंबर, चालकों के आदि नाम नोट करने के साथ-साथ उनसे नवा रायपुर आने का कारण भी पूछा जाएगा। दो पाली में करीब 70 पुलिस व अर्धसैनिक बल के जवानों को जिले की सीमाओं पर तैनात किया जाएगा। दोपहिया और चारपहिया वाहनों की लगातार जांच की जाएगी।

सुरक्षा को लेकर तैयारी शुरू

जी-20 शिखर सम्मेलन की सुरक्षा को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। जल्द ही रोड मैप भी जारी किया जाएगा। एक हजार जवानों की तैनाती रहेगी। होटल, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड सभी जगह विशेष जांच अभियान चलेगा। 

– प्रशांत अग्रवाल, एसएसपी, रायपुर