Fri. Apr 19th, 2024

( प्रचंड धारा ) छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय और उनके कैबिनेट मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा हो गया है। इसके साथ ही करीब सप्ताहभर से अधिक समय से हो रहा इंतजार खत्म हो गया है। बता दें कि मुख्यमंत्री साय और दोनों डिप्टी सीएम अरुण साव और विजय शर्मा ने 13 दिसंबर को शपथ लिया था। इसके बाद 22 दिसंबर को सरकार के बाकी 9 मंत्रियों का शपथ ग्रहण हुआ।

मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने सामान्य प्रशासन विभाग, खनिज, जनसपंर्क, परिवहन और आबकारी विभाग अपने पास रखा है। 

गृह विभाग की कमान डिप्टी सीएम विजय शर्मा को सौंपा गया है। शर्मा को पंचायत एवं ग्रामीण विकास के साथ तकनीकी शिक्षा, रोजगार, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग दिया गया है।

दूसरे डिप्टी सीएम अरुण साव को लोक निर्माण के साथ पीएचई, विधि, और नगरीय प्रशासन विभाग का मंत्री बनाया गया है। 

सबसे बड़ी जिम्मेदारी ओपी चौधरी को दी गई है। चौधरी को वित्त विभाग की कमान सौंपी गई है। इसके साथ ही उन्हें वाणिज्यिक कर, आवास एवं पर्यावरण, योजना आर्थिक एवं सांख्यिकी

सबसे वरिष्ठ मंत्री बृजमोहन अग्रवाल को मंत्री स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, संसदीय कार्य, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति की जिम्मेदारी दी गई है। 

राम विचार नेताम को आदिम जाति विकास, अनुसूचित जाति विकास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक विकास, कृषि विकास एवं किसान कल्याण

दयाल दास बघेल को खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण 

केदार कश्यप, को वन एवं जलवायु परिवर्तन, जल संसाधन, फौशल विकास एवं सहकारिता 

लखनलाल देवांगन को वाणिज्य और उद्योग एवं श्याम बिहारी जायसवाल को लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, बीस सूत्रीय कार्यान्वयन

लक्ष्मी राजवाड़े को महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण 

टंक राम वर्मा को खेलकूद एवं युवा कल्याण, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन