Fri. Apr 19th, 2024

( प्रचंड धारा) नई दिल्ली … मीडिया रिपोर्ट के अनुसार खबर मिली है कि भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी नेताओं को जानकारी दी थी कि दक्षिण में भाजपा को स्थआपित करने के लिए पार्टी पीएम मोदी को किसी एक दक्षिण भारतीय राज्य से उतारने की योजना बना रही है।

2024 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तमिलनाडु से चुनाव लड़ने की अटकलें लंबे समय से जारी हैं। हालांकि, अब तक भारतीय जनता पार्टी ने आधिकारिक तौर पर इसे लेकर कुछ नहीं कहा है। इसी बीच अटकलें ये भी हैं कि पीएम मोदी दक्षिण भारती राज्य की रामनाथपुरम सीट से मैदान में उतर सकते हैं। खास बात है कि यहां फिलहाल इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग यानी IUML से के नवसकनी सांसद हैं।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार के हैदराबाद के नामपल्ली में हुई भाजपा की उच्च स्तरीय बैठक में अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा की ओर से यह मुद्दा उठाया गया था। खबर है कि उन्होंने पार्टी नेताओं को जानकारी दी थी कि दक्षिण में भाजपा को स्थआपित करने के लिए पार्टी पीएम मोदी को किसी एक दक्षिण भारतीय राज्य से उतारने की योजना बना रही


अगर ऐसा हुआ, तो आसान नहीं होगा मुकाबला रिपोर्ट के अनुसार, जब नेताओं से विचार जाने गए, तो कहा जा रहा है कि अधिकांश ने रामनाथपुरम सीट का सुझाव दिया था। अब खास बात है कि फिलहाल, पीएम मोदी हिंदू प्रभाव वाली वाराणसी सीट से चुनाव लड़ते हैं। जबकि, रामनाथपुरम में बड़ी संख्या में मुस्लिम मतदाता हैं। कहा जा रहा है कि अगर पीएम मोदी यहां जीतने में सफल होते हैं, तो यह भाजपा के लिए सियासी तौर मददगार होगा। साथ ही पार्टी की एक नई छवि पेश की जा सकेगी।

दक्षिण से लक्ष्य ?

खबर है कि नड्डा ने दक्षिण भारतीय राज्यों से 50 सीटें हासिल करने की लक्ष्य रखा है। दरअसल, ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी इसके जरिए उत्तरी राज्य में होने वाले संभावित सीटों के नुकसान की भरपाई करना चाहती है। खास बात है कि 2023 के अंत तक मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के अलावा तेलंगाना में भी विधानसभा चुनाव होने हैं।

भाजपा तेलंगाना में खासी सक्रिय नजर आ रही है। बीते साल हुए मुनुगोडे उपचुनाव में पार्टी का प्रदर्शन कुछ बेहतर हुआ था। नड्डा ने जानकारी दी है कि विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी तेलंगाना में कम से कम दो और बैठकें करेंगे।